आप जो भी वर्कआउट करती हों, सभी में स्ट्रेचिंग बेहद जरूरी होती है। आम तौर पर आप आगे झुक कर अपने पंजों को छूती हैं और थोड़ी देर रुकी रहती हैं। जब बात आती है सेक्सर्साइज़ की तो, इसमें भी स्ट्रेचिंग ही करनी होती है बस इसे करने का तरीका थोड़ा अलग होता है। स्ट्रेचिंग सेक्सर्साइज़ के लिए बस आगे झुकें, अपने हाथों को एक कुर्सी की सीट पर रख दें और अपने पैरों को जितना सीधा रख (और आरामदेह) सकें रखें। अपने पार्टनर को पीछे से काम करने दें लेकिन अपने पैरों के शेप का ध्यान रखें।

ऊपर रहने के दूसरे फायदे हैं

जब आपका पार्टनर बैठा हो तो उसके ऊपर बैठ जाएँ। अपने पैरों को उसके चारों ओर लपेट लें और आपे हाथों और पंजों से खुद को ऊपर-नीचे करें। ऐसा करने से आपकी ट्राइसेप्स, बाइसेप्स और हाथों को एक्सर्साइज़ मिलेगी। यदि आपके हाथ उतने मजबूत नहीं है तो अपने पैरों का इस्तेमाल करें जिससे आपकी जांघों को अच्छी एक्सर्साइज़ मिलेगी।

स्क्वाट्स की जगह क्राउचिंग ले सकती है

अपने हाथ और पैरों से खुद को ऊपर-नीचे करें। लेकिन थोड़ा ध्यान से करें और अपनी कमर में चोट न आने दें। इसे धीरे-धीरे करें और अपने हाथ का ख्याल रखें ताकि आप उन्हें स्ट्रेन न कर बैठें। यदि आपको बहुत थकान हो जाए तो ब्रेक जरूर लें। हममें से कुछको इस पोज़ीशन की आदत नहीं होती और इसकी मास्टरी हासिल करने में थोड़ी प्रैक्टिस लगती है।

मिशनरी पोज़ीशन का पूरा फायदा उठाएँ

आप सोच रही होंगी कि इस सेक्सर्साइज़ में तो कुछ करना ही नहीं पड़ेगा। वो ऊपर है और आप अपनी पीठ के बल लेटी हैं तो आप पूछेंगी, इसमें भला एक्सर्साइज़ है कहाँ? असल में इसमें है स्ट्रेचिंग, आर्चिंग और टाइटनिंग। जब वो अपना काम कर रहा होता है तो आप खुद भी थोड़ा वर्कआउट कर सकती हैं। अपनी कमर को स्ट्रेच करें, इसे यहाँ-वहाँ आर्च करें और अपने पेट को टाइट करें। ये बिल्कुल बिस्तर पर पिलाटीस करने जैसा है। यदि आपको इससे भी ज़्यादा सेक्सर्साइज़ करना है तो काम करते समय अपनी केगल मसल्स (जननांगों के पास की मसल्स) को टाइट करने की कोशिश करें – आपके पार्टनर को इसमें बहुत मजा आएगा!

उसके कंधों पर सीधे पैर करके

मैडम अपने पैरों को जरा स्ट्रेच करें। अगली बार जब वो ऊपर हो और आप अपनी पीठ के बल लेटी हों तो अपने पैर उठाकर उसके दोनों कंधों पर रख दें। इससे न सिर्फ सेक्स के समय आपके पैर स्ट्रेच और टोन होंगे, आपके पेट में भी थोड़ा खिंचाव पड़ेगा। अपने फॉर्म पर फोकस करें और अपनी कमर को जब संभव हो आर्च करें – इससे आपके पेट की मसल्स भी टोन होंगी।

LEAVE A REPLY